पुलिस की गुंडागर्दी चरम पर, पत्रकार के साथ दुर्व्यवहार कर कैमरा तोडा..

 राजेश सोनी 
सूरजपुर-भटगांव थाना क्षेत्र मे बिजली तार की चपेट मे विद्युतकर्मी की मौत की लिखित सूचना देने पहुचे परिजनो के द्वारा शिकायत देने के दोरान न्यूज़ कवरेज करने पहुचे निजी न्यूज चैनल के पत्रकार को भटगांव पुलिस थाना प्रभारी आराधना बडनोडे ने कवरेज करने से रोक कर कैमरा तोड कर उसे 2घंटा थाने मे बैठाया गया,तो वही देर रात पत्रकार के साथ दुर्व्यवहार की सुचना से स्थानिय लोग बडी संख्या मे भटगांव थाना पहुचकर विरोध किया!
पत्रकार के साथ दुर्व्यवहार कर कैमरा तोडने की घटना से जिले के पत्रकारो ने विरोध निंदा कर देर रात एडीशन एसपी मेघा टेंभूरकर  से मुलाकात कर पुरे घटना से अवगत कराया,तो उन्होंने त्वरित कार्यवाही करने की बात कही!
लेकिन सबसे बड़ा सवाल यह है कि क्या सीनियर पुलिस अधिकारी ऐसे पुलिस कर्मियों के ऊपर लगाम लगा पाएंगे या फिर इन पुलिस कर्मियों की गुंडागर्दी ऐसे ही देखने को मिलेगी!
गौरतलब है कि गृह मंत्री रामसेवक पैकरा जी का गृह जिले की पुलिस की करतुत किसी से छिपी नही है, पुलिस पर लगातार गंभीर आरोप लगते आ रहे पुलिस थाने मे जुआ खेलना खिलाने की बात हो या देह व्यपार,भूमाफिया कोयला कबाडी जैसी अनैतिक अवैध कारोबार मे संलिप्ता की!दुसरो को सदाचार नसीहत ज्ञान बाटने वाले पुलिस के अधिकारी खुद किस कदर दूध के धुले है यह देखने को आये दिन मिल ही जाता है,ऐसे कई चुलबुल अधिकारी है जिनके चुलबुलाहट से महिला पुलिसकर्मी परेशान डरी सहमी रहती है, इनके आफिस और बगंले के क्या कहना! फिजा में क्या क्या गुल खिल रहा है यह किसी से छिपा हुआ नही है जनता है सब जानती है!