जांच में जब सुमो वाहन का पुलिस ने खोला हुड तो फट गई आंखे, एक- एक कर निकला 10 लाख का अवैध गांजा

प्रवेश गोयल
सूरजपुर- चुनाव आचार संहिता लागू होने के बाद पुलिस द्वारा की जा रही वाहन चेकिंग के दौरान भटगांव पुलिस टीम ने जब टाटा सूमो वाहन की जांच की तो पुलिस टीम के हाथ 10 लाख का अवैध गांजा लग गया। मामले में पुलिस ने 19.01 किलो गांजा के साथ दो आरोपी तस्करों को गिरफ्तार किया है।


इस संबंध में एडिशनल एसपी मेघा टेम्भूरकर ने बताया कि पुलिस अधीक्षक गिरिजा शंकर जायसवाल के निर्देश पर भटगांव थाना के नवपदस्थ प्रभारी किशोर केंवट और उपनिरीक्षक आराधना बनौदे व अन्य की टीम अम्बिकापुर बनारस मुख्य मार्ग में बंशीपुर सोनगरा जंगल स्थित शिवानगी कोयला खदान के समीप वाहन चेकिंग हेतु बल्ली और स्टापर की व्यवस्था कर रहे थे उसी दौरान सुमो गोल्ड वाहन को रोका वैसे ही पुलिस टीम को देखकर सुमो में सवार एक व्यक्ति उतर कर भागने का प्रयास करने लगा जिसे एएसआई रविन्द्र सिंह व सुधीर मिश्रा ने दौड़ाकर पकड़ा और वाहन चालक व भगोडे़ युवक से पूछताछ करने पर सुमो वाहन में विशेष तकनीक से बनाये गये चेम्बर से दो- दो किलो के 34 पैकेटे और एक-एक किलो के 50 पैकेट कुल 19.01 किलो ग्राम अवैध गांजा बरामद हुआ। पूछताछ के दौरान बताया गया कि आरोपीगण उक्त गांजा उडिशा के सम्बलपुर से छत्तीसगढ़ होते हुए उत्तरप्रदेश ले जा रहे थे। वाहन में फर्जी नम्बर प्लेट लगाई गई थी, पुलिस द्वारा वाहन में सवार मिथलेश कुमार आत्मज अवधेश कुमार मण्डल 29 वर्ष ग्राम टेम्हा, महेशखुट जिला खगड़िया एवं धीरज कुमार आत्मज उमेश प्रसाद शाह 28 वर्ष निवासी बेहटा मोहनपुर जिला सहरसा बिहार के विरूद्ध 20 बी एनडीपीएस एक्ट के तहत कार्रवाई करते हुए गिरफ्तार कर जेल भेज दिया है। पुलिस ने तस्करी में शामिल पांच लाख मूल्य की सुमो वाहन व 4 मोबाईल भी जप्त किया है।
गांजा तस्करी के लिए स्पेशल तैयार की गई थी सुमो वाहन
एएसपी मेघा टेम्भूरकर ने बताया कि जांच के दौरान वाहन में गांजे की गंध तो आ रही थी, लेकिन वाहन में गांजा दिखाई नहीं दे रहा था, कड़ाई से पूछताछ के बाद आरोपियों ने जो दिखाया वह चौकाने वाला था। सुमो वाहन की सीट एवं हुड को फाडने पर अलग से तैयार किया गया एक चेम्बर दिखाई दिया जिसे नट बोल्ट से पैक किया गया था, नट बोल्ट खोलकर जब देखा गया तो गांजे की पैकेट सामने दिखने लगी।
कार्रवाई में इनकी रही सक्रियता
बड़े पैमाने पर गांजे की बरामदगी और आरोपियों की गिरफ्तारी में भटगांव थाना प्रभारी किशोर केंवट के अलावा एसआई आराधना बनौदे, एएसआई रविन्द्र प्रताप सिंह, केके यादव समेत सुभाष ठाकुर, अवधेश कुशवाह, सुशील मिश्रा, राध्ेश्याम साहू, विनोद प्रताप सिंह, विश्वरंजन सिंह, विष्णु यादव समेत अन्य ने सक्रिय भूमिका निभाई।