सूरजपुर जिले से भी भाजपा का सफाया, कांग्रेस ने तीनो सीटो पर लहराया परचम…गृहमंत्री की हुई सबसे ज्यादा फजीहत, सर्वाधिक मतो से हारें..कार्यकर्ताओं ने वादे के अनुसार लिया बदला ?

अजय लाल,संतोष सोनी 
सूरजपुर- जिले से भाजपा का पूरी तरह सफाया हो गया है। जिले की तीनो विधानसभा क्षे़त्रों में कांग्रेस ने शानदार तरीके से किलाफतह कर ली है। पर्री स्थित आटीआई भवन में मंगलवार की सूवह 8 बजे से मतगण्ना शूरू हुई। प्रारंभ मतगणना काफी धीमी गति से प्रारंभ हुई। लगभग 10 बजे के आसपास पहले राउण्ड़ की गिनती हो सकी। प्रेमनगर विधानसभा क्षेत्र में पहले राउण्ड़ से
कांग्रेस के प्रत्याशी खेलसाय सिंह ने पहले राउण्ड से जो बढत बनाई वह आखिर तक बनी रही और
कांग्रेस के खेलसाय सिंह करीब 15340 मतो के अंतर से अपने निकटतम प्रतिद्धंदी भाजपा के विजय प्रताप सिंह को प्रशास्त किया है। इसी तरह भटगांव विधानसभा क्षेत्र में पहले से करीब पांच राउण्ड तक भाजपा की श्रीमती रजनी त्रिपाठी करीब चार हजार मतो से बढत बनाई हुई थी। लेकिन छटवें राउंड के बाद उनकी बढत कम होते गई और वे करीब 13946 मतों के अंतर से चूनाव हार गई है। यहां से विधायक रहें कांग्रेस के पारसनाथ राजवाडे़े ने मत हासिल कर के अंतर से 13946 मतो से दुबार विधानसभा में जाने का मार्ग प्रशस्त किया है। सबसे बूरी स्थिती प्रतापपुर विधानसभा क्षेत्र की रही। जहां से भाजपा के गृहमंत्री रामसेवक पैकरा की प्रतिष्ठा दांव पर लगी हुई थी। और जिस ढग से टिकट वितरण के पूर्व प्रतापपुर विधानसभा क्षेत्र के कार्यकर्ताओं ने रामसेवक पैकरा को ना बदलने पर एतिहासिक हार का दांवा किया था। उसी के अनुरूप वे यहां से करीब 43300 मतो के अंतर से चूनाव हार गए है। कांग्रेस के डाॅ0 प्रेमसाय सिंह विधायक चून लिए गए। मतो की गिनती करीब रात्रि 9 बजे तक चलती रही।
प्रत्याशियों के चेहरे में होते रहे उतार चढाव
जैसे ही मतगणना शुरू हुई और पहले दूसरे राउण्ड की गिनती में भटगांव के विधायक पारस राजवाडे़ के पीछे होने की खबरें आती रही। वैसे-वैसे उनकी बैचेनी घटती-बढती रही जबकि गृहमंत्री रामसेवक पैकरा जब पहले दूसरे राउण्ड में आगे रहें तो उनके चेहरे की रौनक बनती रही लेकिन जैसे ही चोथे राउंड हुई और वे पिछडा शुरू किए तो चेहरे की मायुसी किसी से छिपा नही पा रहें थे। स्थिती तो यहां तक बनी कि चौथे राउण्ड के बाद जैसे ही लीड बढती गई वे मतगणना स्थल से धीरें से खिसक लिए।
पत्रकारों से काटा कन्नी
प्रतापपुर विधानसभा क्षेत्र से जैसे ही कांग्रेस को भारी बढत मिलने लगी वैसे ही गृहमंत्री रामसेवक पैकरा मतगणना स्थल से बाहर निकले तो पत्रकारों ने प्रतिक्रिया के लिए उन्हें घेरने की कोशिश की तो वे चाय पीने के बहाने भाग खडे़ हुए।
फुटते रहें पटाखें….
जैसे-जैस कांग्रेस को बढत की ख्बरें मिलती रही वैसे-वैसे शहर सहित मतगणना स्थल पर जुटे बडे़ पैमाने में कांग्रेसी कार्यकर्ता न केवल उत्साहित होते रहें बल्कि नारे बाजी व आतिशबाजी कर खुशी का इजहार करतें रहै। इधर भाजपाईयों की हालत शैनेः शैनेः खराब होती रही और वे किसी चमत्कार की उम्मीद में काफी देर तक टिके रहें। लेकिन जब लगा कि जनता के जनादेंा के सामने कोई चमत्कार काम नही आयेगा तो बारियाॅ बिस्तर बांधने में भलाई समझने लगें।
गिनती के दौरान भी ईव्हीएम ने दिया धोखा
खबर है कि प्रेमनगर विधानसभा क्षेत्र में सातवें राउण्ड से की गिनती के दौरान ईव्हीएम मशीन के खराब होने की बात सामने आईं। जिस बाद में सूधार लिया गया लेकिन कांगे्रसियों के आपत्ती पर व्हीव्हीपैट मशीन से वोटो की गिनती की गई।ं
जनता का निर्णय शिरोधार्य..
पराजय के बाद प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुये प्रेमनगर विधानसभा क्षेत्र के प्रत्याशी विजय प्रताप सिह ने पत्रकारो से चर्चा करते हुये कहा कि जनता का निर्णय शिरोधार्य है लेकिन मलाल इस बात का है कि अपने लोगो ने ही मुझे हराने का कार्य किया है, फिर भी मै प्रेमनगर की जनता ने मुझे जो मान-सम्मान दिया है, उसका सम्मान करते हुये उनके प्रति आभार व्यक्त करता हॅु। और उनकी समस्याओ पर आवाज बुलंद करता रहुॅगा।
कार्यकर्ताओं की जीत:- डाॅ0 प्रेमसाय सिह
प्रतापपुर विधानसभा क्षेत्र के कांग्रेस प्रत्याशी डाॅ0 प्रेमसाय सिंह ने जीत के बाद कहा कि यह जीत पार्टी कार्यकर्ताओं की जीत है लोगो में बदलाव की मानसिकता थी, और क्षेत्र के भाजपा प्रत्याशी के खिलाफ जबरदस्त आक्रोश था। जिसके परिणाम स्वरूप इतनी बडी जीत मिली है। पार्टी आगे मुझे जो जिम्मेदारी देगी उसका निर्वहन करना मेरा दायित्व है, मुख्यमंत्री का चयन विधायक दल के बैठक में तय होगा। उन्होने इस जीत पर पार्टी कार्यकर्ताओ के लिए आभार व्यक्त किया।