शिशु संरक्षण माह…24 जनवरी से 28 फरवरी 2020 तक चलेगा अभियान…. सूरजपुर जिले में विटामिन ए के 51,206 और आयरन के 60,303 लक्षित बच्चों को दी जायेगी खुराक….

राजेश सोनी

सूरजपुर -शुरू हुए शिशु संरक्षण माह (एसएसएम ) में जिले में विटामिन ए के 51,206 और आयरन के 60,303लक्षित बच्चों को पिलाया जाएगा| इस अभियान को लेकर जिले में  तैयारी पूरी हो चुकी है। शिशु संरक्षण माह का शुभारंभ जिला चिकित्सालय सूरजपुर में किया गया जिसमें मुख्य रूप से राज्य टीकाकरण अधिकारी डां अमर सिंह ठाकुर, उपसंचालक आरबीएसके डां कोशल प्रसाद,  सीएमएचओ डां आर.एस.सिंह , जिला टीकाकरण अधिकारी डां अजय मरकाम,डां श्रद्धा वर्मा और राज्य प्रोगा्रमर आरबीएसके अभिषेक कुमार उपस्थित रहे। इस अवसर पर रायपुर से आये  राज्य टीकाकरण अधिकारी डां अमर सिंह ने कहा,” सभी बच्चो को स्वस्थ परिवेश प्रदान करना  हम सबकी जिम्मेदारी  है| शिशु संरक्षण माह मेंविटामिन ए अनुपूरक कार्यक्रम 24 जनवरी 2020 से 28 फरवरी 2020 तक चलेगा  जिसमें  विटामिन ए सिरप की खुराक 9माह से 5 साल तक के बच्चों को तथा , आयरन सिरप की  6माह से 5वर्ष के  बच्चों को दिया जायेगा। सीएमएचओ डां आर.एस.सिंह ने कहा ,”स्वास्थ्य संचालक द्वारा जारी गाइड लाईन के अनुसार स्वास्थ्य विभाग, महिला एवं बाल विकास विभाग, शिक्षा विभाग व अन्य विभागों से समन्वय कर इस अभियान को सफल बनाया जायेगा शिशु संरक्षण माह में विटामिन ए  और आयरन की खुराक लछित बच्चो को दिया जायेगा। । “जिला टीकाकरण अधिकारी डां अजय मरकाम ने जानकारी देते हुए बताया जिले में लक्षित बच्चों के लिए यह सुविधा निशुल्क उपलब्ध होगी। जिले में विटामिन ए की51,206 और आयरन की60,303खुराकलक्षितबच्चों को पिलाईजायेगी|इस बार यह सत्र मंगलवार और शुक्रवार को होंगें ।पहला सत्र 24 जनवरी (शुक्रवार), 28 जनवरी (मंगलवार), और 31 जनवरी (शुक्रवार) को होगा । वहीं माह फरवरी में 4 फरवरी (मंगलवार), 7 फरवरी (शुक्रवार), 11 फरवरी (मंगलवार), 14 फरवरी (शुक्रवार), 18 फरवरी (मंगलवार), 25 फरवरी (मंगलवार), तथा 28 जनवरी 2020 (मंगलवार) को आयोजित किये जायेंगें । अभियान के सफल संचालन के लिए ग्राम स्वास्थ्य व शहरी स्वास्थ्य पोषण दिवस पर ग्राम व शहरी स्तर आंगनबाड़ी कार्यकर्ता, क्षेत्र की मितानिन, महिला आरोग्य समिति, ग्राम पंचायत, वार्ड पार्षद और सदस्य गणों का सहयोग भी लिया जाएगा।शिशु संरक्षण माह के दौरान सभी शासकीय अस्पतालों में सुबह 9 बजे से शाम 4 बजे के बीच ग्रामीण व शहरी क्षेत्रों में बच्चों को विटामिन ए सिरप, बच्चों का वजन, पोषण आहार के विषय में बच्चों की निश्चित अंतराल में दिया जाना है तथा आंगनबाड़ी स्थित सत्रों में संपूरक पोषण आहार की सेवाओं का हितग्राहियों की पात्रता व पोषण तत्वों की आवश्यकता के अनुरूप उपलब्ध कराना है,तथा अतिगंभीर कुपोषित बच्चों को चिन्हित कर पोषण पुनर्वास केन्द्रों में पोषण आहार की प्रदायगी सहित संक्रमण के उपचार हेतु तत्काल व्यवस्था किया जाना हैं।