बारिश ने बढ़ाया सौन्दर्य लफरी जलप्रपात की….ओडगी विकासखंड से 16 किमी की दूरी पर है लफरी जलप्रपात….

राजेश सोनी
सूरजपुर-ओडगी विकासखंड मुख्यालय से 16 किमी की दूरी पर ग्राम पंचायत मसंकी में खूबसूरत लफरी जलप्रपात सुरम्य वनों से आच्छादित पहाड़ियों पर स्थित हैं। यहां की हसीन वादियों में स्थित जल प्रपात को देखकर पर्यटकों को मंत्रमुग्ध हो जाते है। अंचल में कुछ दिनों से हुई बारिश ने इन दिनों लफरी वाटर फॉल की सुंदरता और बढ़ा दी है।
लफरी नदी की ऊंचाई से झरझर गिरता पानी चहुं ओर प्रकृति की अनुपम छटा बिखेरती झरने की झर-झर व नदियों की कलकल की आवाज प्रकृति प्रेमियों के मन को मोह लेती है। ऐसा लगता है मानो वहां प्रकृति गुनगुना रही है। पहाड वनांचल के गोद में स्थित लफरी वाटर फॉल मे जनवरी के महिनो मे प्रकृति प्रेमी बडी संख्या मे आते है।
बारिश ने बढ़ाया सौन्दर्य….
छुपी हुई प्राकृतिक खूबसूरती से सराबोर लफरी नदी का जलप्रपात का यौवन सावन के महीने में देखते ही बनता है। बारिश के दिनों में पहाड़ियों के छोटे-छोटे नदी नालों का पानी बढ़ने से झरने की धार तेज हो गई है। बारिश मे चारों ओर हरियाली व पशु पक्षी के कलरवों के बीच झरने का सौन्दर्य कई गुना बढ़ जाता है।

लफरी जलप्रपात

बरहाल लफरी जलप्रपात मे पर्यटकों को सुविधाओं का अभाव है। इनमें पहुंच मार्ग, पेयजल, संचार सहित अनेक मूलभूत सुविधाओं के लिए यहां आने वाले पर्यटकों को भटकना पड़ता है। इस ओर प्रशासन द्वारा ध्यान देकर सकारात्मक पहल उठाने की आवश्यकता है।