जिले में कोरोना का कहर जारी….. कोरोना से जिले में दो लोगो की मौत…..अब तक 8 की हो चुकी है मौत….

सूरजपुर- जिले में कोरोना का कहर लगातार जारी है। कोरोना से जिले में आज दो लोगो की मौत हो गई है। कोरोना के कहर के कारण जहां दो थानों को सील किया गया है वही सखी वन स्टॉप सेंटर में एक पॉजिटिव केस सामने आने से दहशत की स्थिति बन गई है। जिले में 497 एक्टिव केस है जिनका उपचार किया जा रहा है। कोरोना का सबसे ज्यादा असर जिले के रामानुजनगर,प्रतापपुर व सूरजपुर ब्लॉक में है। रामानुजनगर ब्लॉक के ग्राम राजापुर का एक49 वर्षीय ग्रामीण जो कि पिछले 22 सितम्बर को संक्रमित पाया गया था उसकी आज यहां कोविड अस्पताल में उपचार के दौरान मौत हो गई है। दूसरी ओर प्रतापपुर के एक नेता की भी मौत आज अम्बिकापुर में हो गई है। वे भी कोरोना संक्रमित थे। वर्ष 2018 में जोगी कांग्रेस से विधानसभा चुनाव लड़ने वाले चिकित्सक डॉ सिंह वर्तमान में भाजपा में सांसद प्रतिनिधि भी थे। इधर जिले में कोरोना के करीब 497 संक्रमित मरीज है जिनका इलाज कोविड अस्पतालों में किया जा रहा है जबकि 392 लोग ऐसे है जो होम आइसोलेट किये गए है। जिसमे 25 स्वास्थ्य वर्कर भी शामिल है। जिले में अब तक 9 लोगो की मौत हो गई है।
1340 जीत चुके है जंग
कोरोना से राहत की खबर यह भी है कि जिले में अब तक 1340 ऐसे लोग है जो कोरोना से जंग जीत स्वस्थ्य होकर घर लौट चुके है। बावजूद इसके मरीजो की लगातार बढ़ती संख्या से लोगो मे चिंता की लकीरें जरूर है पर जहाँ बात सावधानी की आ रही तो बाजारों के खुलते ही लोग कोरोना के खतरे को भूल कर लापरवाही करने से बाज नही आ रहे।
चन्दोरा व रामानुजनगर थाना सील
चन्दोरा व रामानुजनगर थाने के अधिकांश स्टॉप के संक्रमित पाए जाने के कारण जहां उन्हें बेरोको में आइसोलेट किया गया है वही थानों को सील कर दिया गया है। रामानुजनगर में तो चलित थाने से फिलहाल काम चल रहा है। जबकि चन्दोरा में एक अन्य भवन से थाने का काम संचालित है।इधर आज सखी वन स्टाप सेंटर में एक महिला कर्मचारी के संक्रमित पाए जाने के बाद यहां भी दहशत की स्थिति निर्मित है।