प्रतापपुर माँ समलेश्वरी मंदिर में शेड का हुआ लोकार्पण सतीश चौबे होंगे?

सचिन तायल

प्रतापपुर।मां समलेश्वरी ट्रस्ट के आजीवन संरक्षक स्थानीय विधायक व मंत्री डॉ प्रेमसाय सिंह होंगे,वहीं सतीश चौबे ट्रस्ट के पहले अध्यक्ष होंगे।रविवार की रात मां समलेश्वरी मंदिर में ट्रस्ट के सदस्यों की बैठक के दौरान सर्वसम्मति से निर्णय लिया गया।एक कार्यक्रम के दौरान प्रेमसाय सिंह ने ट्रस्ट के दस्तावेज सदस्यों को सौंपे,ट्रस्ट की ओर से उनके साथ मंत्री प्रतिनिधि कुमार सिंह देव,एसडीएम सीएस पैंकरा व नव मनोनीत अध्यक्ष को स्मृति चिन्ह व शाल श्रीफल तथा सभी सदस्यों को साल श्रीफल से सम्मानित किया गया।प्रतापपुर नगर में स्थित मंदिरों व इनसे जुड़ी जमीनों की देखरेख के लिए थाली में ट्रस्ट का निर्माण किया गया है जिसका नाम मां समलेश्वरी सेवा ट्रस्ट रखा लिए रखा गया है,रविवार की रात ट्रस्ट की पहली बैठक मां समलेश्वरी मंदिर में रखी गई थी।बैठक के दौरान सर्वसम्मति से डॉ प्रेमसाय सिंह को ट्रस्ट का आजीवन सदस्य व मंदिर समिति के अध्यक्ष सतीश चौबे को ट्रस्ट का पहला अध्यक्ष चुना गया।सदस्य जितेंद्र दुबे ने दोनों नाम पर प्रस्ताव रखा था जिस पर सभी सदस्यों ने सहमति प्रदान की।इससे पहले एक कार्यक्रम के दौरान डॉ प्रेमसाय सिंह ने ट्रस्ट से जुड़े दस्तावेज सदस्यों को सौंपे तथा एक कॉपी मां समलेश्वरी के मंदिर में अर्पित किए गए।ट्रस्ट के सदस्यों ने डॉ प्रेमसाय सिंह,उनके प्रतिनिधि कुमार सिंह देव,एसडीएम सीएस पैंकरा व अध्यक्ष सतीश चौबे को स्मृति चिन्ह भेंट कर शाल श्रीफल से सम्मानित किया।मंत्री डॉ प्रेमसाय सिंह ने सदस्यों अनिल गुप्ता,जितेंद्र दुबे,अनिल मित्तल,भोला शुक्ला,नरेंद्र तिवारी,वीरेंद्र पांडेय,धीरज गुप्ता,अम्बिका जायसवाल, विंध्याचल गुप्ता,सचिन तायल,अखिलेश वर्मा,प्रदीप गोयल,अमित सिंघल व राकेश मित्तल का सम्मान शाल श्रीफल से किया।डॉ प्रेमसाय सिंह ने ट्रस्ट के सभी सदस्यों को शुभकामनाएं देते हुए कहा कि आप लोगों को एक बड़ी जवाबदारी मिली है,प्रतापपुर के मंदिर ऐतिहासिक हैं और इन्हें संरक्षित करना सबसे बड़ी जिम्मेदारी है।अभी इसकी शुरुआत कुछ लोगों के साथ हुई है,धीरे धीरे नगर व आसपास के लोगों को ज्यादा से ज्यादा जोड़ें।अध्यक्ष सतीश चौबे ने कहा कि उन्हें जो जिम्मेदारी मिली है उसका वे ईमानदारी से पालन करेंगे तथा मंदिरों को संरक्षित करने के साथ सभी के सहयोग से सामाजिक सदभाव के लिए काम करेंगे।

नगर के सभी 11 मंदिर और इनसे जुड़ी जमीन ट्रस्ट का हिस्स

प्रतापपुर को मंदिरों की नगरी कहा जाता है,यहां 11 मंदिर ऐसे हैं जो काफी पुराने हैं जिनमें समलेश्वरी मंदिर,महामाया मंदिर,काली मंदिर,गणेश मंदिर,हनुमान मंदिर,सूर्य मंदिर,शंकर मंदिर,ठाकुर बाड़ी, भैरव मंदिर व अन्य शामिल हैं। तत्कालीन राजाओं ने इनका निर्माण कराया था,राजाओं ने मंदिर निर्माण के साथ रखरखाव के लिए जमीनें मंदिरों के नाम की थी।ये सभी मंदिर व इनसे जुड़ी जमीनें ट्रस्ट का हिस्सा होंगी और इनका संरक्षण व रखरखाव ट्रस्ट के मुख्य काम होंगे। मंदिर परिसर में विधायक निधि से बना भव्य शेड, स्कूल शिक्षा मंत्री ने किया लोकार्पण

माँ समलेश्वरी मंदिर परिसर में बने शेड का लोकार्पण रविवार की रात मंत्री डॉ प्रेमसाय सिंह के मुख्य आतिथ्य में हुआ,इसका निर्माण उनकी निधि से करीब 15 लाख की लागत से कराया गया है।कार्यक्रम की शुरुआत प्रवेश द्वार में उनके साथ अन्य अतिथियों के स्वागत से हुई जिसके बाद पूजा पाठ व रिबन काट शेड का लोकार्पण किया हुआ,उन्होंने पूजा के बाद मां दुर्गा का ध्वज भी फहराया।कार्यक्रम के दौरान उपस्थित लोगों से डॉ प्रेमसाय सिंह ने कहा कि समिति द्वारा उम्मीद से बढ़कर शेड का निर्माण उच्च स्तरीय कराया है जिसकी तारीफ की जानी चाहिए।शेड इतना बड़ा है कि यहां कई तरह के सामाजिक व धार्मिक आयोजन किये जा सकते हैं।सामाजिक हित में वे हमेशा अपना सहयोग देते रहेगें, उन्होंने शेड के ऊपर सामुदायिक भवन बनाने के लिए पंद्रह लाख के साथ नगर के अन्य मंदिरों के जीर्णोद्धार के लिए अलग से बीस लाख रुपये देने की घोषणा की।कार्यक्रम के दौरान स्थानीय लोगों ने उनसे मुलाकात कर अपनी समस्याओं व मांगों से अवगत कराया,इस दौरान ट्रस्ट द्वारा भंडारे का भी आयोजन किया गया।आयोजन को सफल बनाने में ट्रस्ट के सदस्यों के साथ शिवशंकर जायसवाल,मुकेश तायल,हरिशंकर कश्यप,सुनील श्रेष्ठ,सचिन जायसवाल,संजीव पांडेय,आनंद शुक्ला,अमित पांडे,निशांक शुक्ला,प्रियंकल तिवारी,काजू कश्यप,कौशल दुबे,विक्रम नामदेव संदीप रजक बादल नायक अंकुश गुप्ता व अन्य ने सराहनीय योगदान दिया।इस दौरान शक़्कर कारख़ाना अध्यक्ष विद्यासागर सिंह,केशवानंद पांडेय,हरिसन्तोष मित्तल,आनंद मित्तल,शैलेन्द्र सिंह,नरेंद्र गर्ग,सन्तविलास मिश्रा,बनवारीलाल गुप्ता, कंचन सोनी,मुकेश गर्ग,नवीन जायसवाल,अजित शरण सिंह,शिवभजन मरावी,संजीव श्रीवास्तव,थऊला राम,रामायण गुप्ता,मनोज सिंह,देवानन्द पांडेय,अवधेश सिंह,मृत्युंजय मिश्रा,आकाश मित्तल सहित तहसीलदार गरिमा ठाकुर,बीएमओ डॉ राजेश श्रेष्ठ,डॉ विजय शरण सिंह,सीईओ निजामुद्दीन,थाना प्रभारी विकेश तिवारी,एमडी शक़्कर कारख़ाना अनिल तिर्की,एसडीओ वन मनोज विश्वकर्मा,अनुजेश्वर पांडेय व अन्य लोग उपस्थित थे,कार्यक्रम संचालन राकेश मोहन मिश्रा ने किया।