जिले मे कोरोना संक्रमण और बढ़ते मौत….बीते महिने 53 की हुई मौत 7550 संक्रमित पाये गये….

राजेश सोनी
सूरजपुर- जिले में कोरोना की दूसरी लहर इस कदर बेकाबू है कि प्रतिदिन न केवल संक्रमितों की संख्या बढ़ रही है बल्कि मौत के आंकड़े भी लोगो को डरा रहे है.13 अप्रैल को लगाये गये लाक डाउन मे ही बीते माह में 47 लोगो की मौते हो चुकी तो वही 5949 कोरोना संक्रमित मरीज पाये गये. बीते अप्रैल माह मे 7550 कोरोना संक्रमित पाये जाने के साथ 53 मौत हो चुकी है. कई युवा तो बुजुर्ग संक्रमित होकर मौत के गाल में समा गये है कोरोना संक्रमितो की बढते रफ्तार से जिले की स्वास्थ व्यवस्थाएं भी ध्वस्त होती दिखाई पड़ रही है. तो वही स्वास्थ विभाग में चल रहे गुटबाजी का असर स्वास्थ सेवाओ के साथ व्यव्स्थाओ पर पड रही है जिससे स्वास्थ व्यव्स्था बेलगाम हो गया है. कोविडि अस्पताल में उपचार करा रहे मरीजो अनुसार यहा का यह हाल है कि डाक्टर तक अस्पताल मे नही आते है नर्से जरुर आती है बहरहाल कोरोना सक्रमित मरीज भगवान भरोसे है. तो वही अस्पताल प्रबंधन बच गये खुद किस्मत.
होम आइसोलेशन के मरीजो तक नही पहुंच रही दवा
कोविड अस्पताल की तुलना मे अब तक होम आइसोलेशन में रह कर बडी संख्या में कोरोना संक्रमित ठीक तो हुये है लेकिन ये अपने भरोसे ठीक हुये है ना की अस्पताल प्रबंधन के भरोसे. एक ही परिवार के 10 लोग कोरोना संक्रमित पाये गये थे उन्हे आज तक अस्पताल की ओर से कोई दवा नही दी गई उक्त परिवार खुद के खर्चे से दवा खरीद कर ठीक हो रहे है पिडित परिवार बताते है उन्होेने कंन्ट्रोल रुम में फोन किया था जहा से ना दवा मिली और ही ना मार्गदर्शन मिला ऐसे वे खुद के उपाय से ठीक हो रहे है.