कलेक्टर की बिहारपुर चांदनी क्षेत्र का दौरा…घटिया निर्माण देखकर भड़की…

सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र बिहारपुर में 30 लाख के लागत बने नवीन कोविड-सेन्टर की फांल सिलिंग टुट कर लाखों रुपए की दवाऐ नुकसान देख भड़की कलेक्टर

बिहारपुर

सूरजपुर जिले के दूरस्थ अंचल बिहारपुर चांदनी क्षेत्र में पूर्व कलेक्टर गौरव सिंह के द्वारा लगातार 15 दिन में जनसंवाद कैम्प लगाकर लगातार सुनवाई की जाती थी स्थानांतरण होने के बाद वर्तमान कलेक्टर सुश्री ईफ्फत आरा ने दूसरी बार बिहारपुर चांदनी क्षेत्र में पहूंची है जहां नावाटोला बार्डर की निरिक्षण की जिसके बाद निर्माणाधीन कॉलेज का बिल्डिंग देखने पहुंची जहां ग्रामीणों ने घटिया निर्माण को लेकर शिकायत दर्ज कराई ग्रामीणों ने कहा घटिया तरीके से निर्माण किया जा रहा है जिस पर कलेक्टर ने जांच कराने की बात कही बिहारपुर कैंपस में जाने के बाद पूर्व कलेक्टर के द्वारा बनाए गए उप ब्लॉक केम्प बंद होने की सूचना ग्रामीणों ने दी जिस पर कलेक्टर ने जनपद सीईओ को फटकार लगाते हुए तत्काल ऑपरेटर और सप्ताह में एक बार जनपद सीईओ को बैठने की निर्देशित किया गया सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र बिहारपुर का निरीक्षण करने पहुंची नवनिर्मित 30 लाख की लागत से बने कोविड-सेन्टर का घटिया निर्माण करने से फॉल सीलिंग टूट कर लाखों के दवाओं पर गिरा पड़ा था जिसे देखकर कलेक्टर ने डॉक्टरों पर भड़की इसके बाद कन्या हाई स्कूल के अच्छे छत को देखते हुए निर्माण कराते हुए पंचायत सचिव को कहां फाल सीलिंग कि इसमें आवश्यकता नहीं है पैसे का दुरुपयोग ना करें।