एसपी ने चिटफण्ड कंपनी के एजेंटों की ली बैठक…निवेशकों को रुपए वापस दिलाने चिटफंड कंपनियों की संपत्ति ढूंढ़ रही पुलिस…

सूरजपुर. निवेशकों के रुपए लौटाने के लिए पुलिस अब चिटफंड कंपनियों की कुंडली खांगालना शुरू कर दिया है। पुलिस महानिरीक्षक सरगुजा रेंज सरगुजा रामगोपाल गर्ग ने चिटफण्ड कंपनी के विरूद्ध दर्ज मामलों में जानकारी हासिल करते हुए कार्यवाही कराने के निर्देश दिए है। इसी तारतम्य में पुलिस अधीक्षक रामकृष्ण साहू ने आज चिटफंड कंपनियों में पूर्व में काम कर रहे एजेंटों को बुलाकर उनकी बैठक ली। उन्होंने कंपनियों के एजेंटों से चर्चा कर चिटफण्ड कंपनियों के डायरेक्टरों के चल-अचल सम्पत्तियां कहां-कहां है उसकी जानकारी से अवगत कराने कहा, जिसके आधार पर पुलिस उन्हें पकड़ सकेे साथ ही उनकी सम्पत्तियों की कुर्की भी कराई जा सके। पुलिस अधीक्षक ने बताया कि प्रशासन व पुलिस चिटफण्ड के मामलों को लेकर गंभीरतापूर्वक कार्य कर रही है। प्राप्त जानकारियों के आधार पर पुलिस के द्वारा लगातार दबिश दी जा रही है। वेलफेयर रियल स्टेट कंपनी के एजेंट ने बताया कि कंपनी में निवेश करने वाले करीब 60 लोगों का 8.50 लाख रूपये वापस आ चुका है इसी प्रकार पीएसीएल कंपनी के एजेन्ट ने बताया कि 21 लोगों का करीब 2 लाख रूपये वापस आने की जानकारी दी। इस दौरान निरीक्षक जावेद मियादाद, एनआईसीएल, पीएसीएल, अभिनव हायर पर्चेस, आवास ग्रुप, फ्यूचर जनरल इंश्योरेंस बीमा के पूर्व एजेंट अमृत राजवाड़े, लक्ष्मण राजवाड़े, बटुलराम रजक, संजय चौबे, जितेन्द्र शर्मा, जयपाल मरकाम, विजय राजवाड़े, प्रसन राजवाड़े, रामकुमार राजवाड़े, शिवप्रसाद राजवाड़े, राम प्रसाद राजवाड़े मौजूद रहे।