जादूगरी के बादशाह जादूगर आनंद का शो शहर में…23 से जादूगर आनन्द के विस्यमकारी मायालोक का होगा प्रदर्शन…

राजेश सोनी

सूरजपुर. मैजिक शो की दुनिया के मशहूर जादूगर आनंद के नये गुदगुदाते जादुई इंद्रजाल से 23 दिसंबर से सूरजपुर के लोग रूबरू होंगे। जादूगरी की दुनिया के बादशाह आनंद के जादुई शो का शुभारंभ यहां शिवपार्क के समीप स्थित नगर पालिका के मंगलभवन में 23 दिसम्बर शुक्रवार से आयोजित होगा। बुधवार को अपने इन्द्रजाल के संबंध में पत्रकारों से चर्चा करते हुए जादूगर आनंद के नाम से देश व दुनिया मे सुर्खियां बटोरने वाले आनन्द अवस्थी ने दावा किया कि सूरजपुरवासी उनके जादुई शो को देखकर चमत्कृत हो जायेंगे। दुनिया के विभिन्न शहरों में अपने रंगीन मायाजाल से जादूगर आनंद ने लोगों को आश्चर्यचकित किया है। जादूगर आनंद के नाम पर 36 देशों में 36 हजार से ज्यादा शो करने का अपने आप मे एक विश्व रिकार्ड बना हुआ है। उनके द्वारा 300 किमी दूर बैठे व्यक्ति से टैलीपैथी से बात करना भी अपने आप में अनूठा शो है, जो भी विश्वकिर्तीमान में दर्ज है। 

40 मैजिक आयटमों से सजा होगा शो..

जादूगर आनन्द ने बताया कि इस बार के शो में अमेरिका के विश्व प्रसिद्ध जादूगर हैरी हुडनी का वहाटर आयटम भी शामिल है। इसके साथ शो में मैजिक फोल्ड ड्रेस, डिवाईन मैजिक लव, स्प्रंग फैंटेसी, बाहूबली-2, टाल र स्टोरी, बरमूला टेंगिल, गिलोटीन, फिलोटिंग हेड, बॉडी थूर बॉडी, इजिप्सन प्रिंस सहित करीब 40 मैजिक आईटमों से उनका शहर में प्रतिदिन मैजिक शो होगा। जादूगर आनंद पहली बार सूरजपुर में अपनी कला लेकर आये हैं। उन्हें वर्ष पिछले वर्ष मैजिशियन एसोसिएशन ऑफ इंडिया के अध्यक्षजादूगर आनंद को बैंगलूर विश्वविद्यालय ने मानद डाक्टरेट की उपाधि से भी सम्मानित किया गया है। जादू को भारतीय ललीत कला का अभिन्न हिस्सा मानने वाले जादूगर आनंद अपने जादू शो को रूढ़ियों व अंधविश्वास के खिलाफ एक आंदोलन मानते हैं।

रोमांचक चमत्कारिक बाईक रैली आज..

आयोजन शुरू करने से पूर्व गुरुवार को जादूगर आनंद  रोमांचक चमत्कारिक बाईक रैली का प्रदर्शन भी अपनी टीम के साथ करेंगे। जादूगर आनंद और उनकी टीम शहर की सड़कों पर सुबह 11 बजे ड्राईव में निकलेंगे। संयुक्त जिला कार्यालय से होकर, नावापारा मेन रोड होते हुए जनपद पंचायत कार्यालय, अग्रसेन चौक, सुभाष चौक से भैयाथान रोड अग्रसेन भवन तक, फिर अग्रसेन भवन से वापस सुभाष चौक, अग्रसेन चौक से मानपुर चौक  बायपास रोड होते हुए न्यू सर्किट हाऊस, साधुराम सेवा कुंज, माता कर्मा चौक से वापस संयुक्त जिला कार्यालय  के सामने समापन होगा। ज्ञात हो कि  आंखो पर पट्टी बांधकर महज तीन घण्टों में इंदौर से भोपाल का सफर पूरा करने का विश्व रिकार्ड भी जादूगर आनंद बना चुके हैं।