सरगुजा IG ने साइबर प्रहरी कार्यक्रम का किया शुभारंभ… साइबर प्रहरी ब्राडकास्ट ग्रुप में 38 हजार लोगों को जोड़ा…ग्रुप में शुभकामना दिया…साइबर प्रहरी लोगो का हुआ अनावरण…

राजेश सोनी

सूरजपुर. जिले के हर व्यक्ति तक पुलिस की पहुंच बनाने, साइबर अपराध से बचाव, सुरक्षा के प्रति जागरूकता के संदेश, महत्वपूर्ण जानकारियों को त्वरित गति से लोगों तक पहुंचाने के लिए सूरजपुर पुलिस के द्वारा साइबर प्रहरी कार्यक्रम के तहत ब्राडकास्ट ग्रुप बनाकर 38 हजार लोगों को जोड़ा है। आमजनता की सुरक्षा, अपराध से बचने की जानकारी देने व जागरूकता से जुड़े सूरजपुर पुलिस की इस नई पहल ‘‘साइबर प्रहरी‘‘ कार्यक्रम का शुभारंभ गुरूवार, 22 दिसम्बर को पुलिस महानिरीक्षक सरगुजा रेंज सरगुजा रामगोपाल गर्ग के द्वारा जिला पंचायत सूरजपुर के सभाकक्ष में किया गया।
               इस दौरान पुलिस महानिरीक्षक, सरगुजा रेंज रामगोपाल गर्ग ने कहा कि साइबर अपराध, ऑनलाईन फ्राड करने वाले ज्यादातर दिगर प्रदेश के होते है, साइबर अपराध होने के बाद आरोपी की धरपकड़, पीड़ित की मदद कर उनकी मेहनत की कमाई को वापस दिलाने की कार्यवाही पुलिस के द्वारा सुनिश्चित कराई जाती है, किन्तु नागरिकगण साइबर अपराध व ऑनलाईन फ्राड के प्रति एलर्ट और जागरूक रहेंगे तो ऐसी घटना ही न हो, इस प्रकार के अपराध को रोकने के उद्धेश्य को लेकर सूरजपुर पुलिस के द्वारा साइबर प्रहरी कार्यक्रम की शुरूवात की है। साइबर प्रहरी कार्यक्रम के तहत प्रथम चरण में जिले के 38 हजार लोगों को वाटसएप ब्राडकास्ट ग्रुप से जोड़ा गया है जिसके माध्यम से उन्हें साइबर क्राईम से जुड़ी सूचनाएं तथा कोई भी व्यक्ति धोखाधड़ी का शिकार न हो, न केवल साइबर बल्कि बहुत सारे अपराध से बचाव के लिए जागरूकता संबंधी जानकारी कम समय में त्वरित गति से उपलब्ध कराई जायेगी। आईजी सरगुजा श्री गर्ग ने कहा कि पुलिस और जनता का संबंध बना रहेगा तो अपराधों पर अकुंश लगाई जा सकेगी। सूरजपुर पुलिस की इस पहल की सराहना करते हुए कहा कि यह कार्यक्रम बेहतर पुलिसिंग को और मजबूत करेगा।

पुलिस अधीक्षक रामकृष्ण साहू ने कहा कि आईजी सरगुजा के मार्गदर्शन में साइबर प्रहरी कार्यक्रम की रूपरेखा बनी, जिले के 13 थाना व 10 चौकियों के सम्पूर्ण क्षेत्र में कुल 543 गांव है, यहां के सभी नागरिकों तक पुलिस की पहुंच बनाने के लिए पहले फेज में 38 हजार लोगों का 110 ब्राडकास्ट ग्रुप बनाया गया है और निरंतर नए ग्रुप बनाए जा रहे है। द्धितीय फेज में जिले के सभी वाटसएप यूजर को साइबर प्रहरी कार्यक्रम में जोड़ने का लक्ष्य रखा गया है। इस कार्यक्रम के तहत नागरिकों को अपराध से बचाव के लिए जागरूक करने में मदद मिलेगी। साइबर सेल व पुलिस कन्ट्रोल रूम के अधिकारी और जवान समय-समय पर साइबर, ऑनलाईन फ्राड, यातायात नियमों की जानकारी सहित अन्य अपराध से बचाव के बारे में जानकारी झांसा करेंगे और लगातार उनसे संवाद स्थापित कर जानकारियों से अवगत करायेंगे।
           सीईओ जिला पंचायत सुश्री लीना कोसम में सूरजपुर पुलिस के साइबर प्रहरी कार्यक्रम को बेहद उपयोगी बताया। उन्होंने कहा कि इस कार्यक्रम के तहत कम समय में ज्यादा लोगों तक पुलिस की पहुंच बनेगी, उन्हें कई विषयों व अपराध से बचाव के लिए जागरूक किया जा सकेगा। पुलिस के इस अभियान में प्रशासन की ओर से हरसंभव सहयोग देने की बात कही।

ब्राडकास्ट ग्रुप में आईजी सरगुजा ने पोस्ट की शुभकामना संदेश
           कार्यक्रम के दौरान आईजी सरगुजा रेंज रामगोपाल गर्ग ने सूरजपुर पुलिस के साइबर प्रहरी के ब्राडकास्ट ग्रुप में शुभकामना संदेश पोस्ट किया। उन्होंने कहा कि सही सूचनाओं का विश्वसनीय तरीके से प्रसार किया जाएगा जिसमें आनलाइन ठगी के नए-नए आ रहे तरीकों के बारे में व उनसे बचने के उपायों सहित अन्य जरूरी जानकारी दी जाएगी। जिले की जनता को जागरूक कर सभी को सायबर प्रहरी बनाना है जिससे सभी एक दूसरे का सहयोग कर आनलाईन खतरों से एक दूसरे को बचा सके।

सूरजपुर पुलिस के साइबर प्रहरी लोगो का हुआ अनावरण…
      कार्यक्रम के दौरान सूरजपुर पुलिस के साइबर प्रहरी कार्यक्रम का आकर्षक लोगो का अनावरण आईजी सरगुजा रेंज रामगोपाल गर्ग, पुलिस अधीक्षक सूरजपुर रामकृष्ण साहू, सीईओ जिला पंचायत सुश्री लीना कोसम के द्वारा किया गया। अतिथियों के मानस पटल पर कार्यक्रम अक्षुण्ण रखने स्मृति चिन्ह भेंट किया गया। इस दौरान डीएसपी मुख्यालय नंदिनी ठाकुर, एसडीओपी सूरजपुर प्रकाश सोनी, एसडीओपी प्रतापपुर अमोलक सिंह, जिले के समस्त थाना-चौकी प्रभारी, थाना-चौकी के बीट के आरक्षकगण मौजूद रहे।